यूपी के यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में बनेगी उम्दा फिल्म सिटी, हिन्दी भाषी प्रतिभाएं आएंगी सामने, बॉलीबुड को मिल सकती है टक्कर

यूपी के यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में बनेगी उम्दा फिल्म सिटी, हिन्दी भाषी युवाओं की प्रतिभाएं आएंगी सामने, बॉलीबुड को मिलेगी टक्कर

लखनऊ,19 सितम्बर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में देश की सबसे खूबसूरत फिल्म सिटी बनाने की घोषणा की, उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि यह फिल्म सिटी गौतमबुद्ध नगर जिले के ग्रेटर नोएडा में बनाई जाएगी। इसके लिए जल्द ही एक कार्य योजना बनाने के साथ ही भूमि आदि का चयन किया जाए। उन्होंने कहा कि हम प्रदेश में एक फिल्म सिटी तैयार करेंगे जिसके लिए नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना एक्सप्रेसवे का क्षेत्र अच्छा होगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि देश को एक अच्छी फिल्म सिटी की जरूरत है। उत्तर प्रदेश यह जिम्मेदारी को लेने के लिए तैयार है। हम एक उम्दा फिल्म सिटी तैयार करेंगे। यह फ़िल्म सिटी फ़िल्म निर्माताओं को एक बेहतर विकल्प उपलब्ध कराएगी। साथ ही, रोजगार सृजन की दृष्टि से भी अत्यंत उपयोगी प्रयास होगा। इस दिशा में भूमि के विकल्पों के साथ यथाशीघ्र कार्ययोजना तैयार की जाए। मुख्यमंत्री शुक्रवार को अपने आवास पर वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये मेरठ मंडल के जिलों मेरठ, हापुड़, बागपत, गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, बुलन्दशहर के विकास कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। वीडियो कान्फ्रेंसिंग में जनप्रतिनिधिगण और मंडल के वरिष्ठ अधिकारी सम्मिलित थे। मुख्यमंत्री ने गाजियाबाद में जनप्रतिनिधियों के प्रशिक्षण के लिए प्रस्तावित केंद्र के निर्माण कार्य को शीघ्र प्रारंभ करने के निर्देश दिए। मेरठ के हस्तिनापुर ब्लॉक में सोती नदी के पुनरुद्धार के लिए किए जा रहे प्रयासों का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री ने नदी और तालाब पुनर्जीवन के लिए मनरेगा को माध्यम बनाने की ज़रूरत बताई।
रोजगार पैदा करने में मिलेगी मदद, युवा प्रतिभाएं आएंगी सामने
सीएम योगी आदित्यनाथ ने यह भी कहा कि यह फिल्म सिटी फिल्म निर्माताओं को एक अच्छा विकल्प प्रदान करेगा और यह रोजगार पैदा करने में भी मदद करेगा। खास बात तो यह है कि यहां बड़ी संख्या में लोगों को काम मिलेगा। इसके अलावा सभी कलाकारों को भी अपनी कला को दिखाने का एक अवसर मिलेगा। बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को अपने सरकारी आवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मेरठ मंडल, मेरठ, हापुड़, बागपत, गौतमबुद्धनगर, गाजियाबाद, बुलंदशहर जिलों) के विकास कार्यों की समीक्षा करते हुए कई अन्य निर्देश भी दिए।

Spread the love
Latest News