ग्रेनो के गांवों व सेक्टरों को जोड़ने के लिए स्थानीय बस सेवा हुई शुरू, दादरी विधायक व एमएलसी ने दिखायी झंडी

Local bus service started to connect villages and sectors of Greno, Dadri MLA and MLC flagged off

ग्रेटर नोएडा। ग्रेटर नोएडा ईस्ट व ग्रेनो वेस्ट के निवासियों को नए साल की बड़ी सौगात मिल गई। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण व रोडवेज के संयुक्त प्रयास से बृहस्पतिवार से गांवों व सेक्टरों को जोड़ते हुए स्थानीय बस सेवा शुरू कर दी गई है। एमएलसी श्रीचंद शर्मा, जेवर विधायक धीरेंद्र सिंह व दादरी विधायक तेजपाल नागर ने प्राधिकरण के एसीईओ अमनदीप डुली की मौजूदगी में इन बसों को हरी झंडी दिखाई। ग्रेटर नोएडा के गांवों, सेक्टरों व प्रमुख सार्वजनिक स्थलों को जोड़ते हुए पांच रूटों पर बसें चलाई गई हैं। अब ग्रेटर नोएडा ईस्ट व वेस्ट के निवासियों को शहर में किसी भी जगह आने-जाने में परेशानी नहीं होगी।
ग्रेटर नोएडा ईस्ट व ग्रेटर नोएडा वेस्ट में एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिए सार्वजनिक परिवहन की कमी थी। मेट्रो की सुविधा एक निश्चित रूट पर ही है। ग्रेटर नोएडा के निवासी प्राधिकरण से स्थानीय बस सेवा शुरू करने की मांग कर रहे थे। प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने रोडवेज के एमडी के साथ बीते माह बैठक कर ग्रेटर नोएडा ईस्ट व वेस्ट में बसें चलाने को कहा। बसों के संचालन में खर्च की भरपाई करने को भी प्राधिकरण तैयार हो गया। बसों के संचालन खर्च और टिकट से होने वाली आमदनी के बीच करीब 30 लाख रुपये प्रति माह का अंतर आ रहा था, जिसकी भरपाई करने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण तैयार हो गया। बृहस्पतिवार को कासना डिपो से पांचों रूटों पर बसें शुरू कर दी गईं। इनमें वातानुकूलित व सामान्य दोनों तरह की बसें शामिल हैं।

–ग्रेनो ईस्ट व वेस्ट के निवासियों का आना-जाना हुआ आसान
–इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप व ग्रेटर नोएडा वेस्ट भी जुड़े

दादरी विधायक तेजपाल नागर ने सेक्टरों व ग्रामवासियों से स्थानीय बस सेवा में सफर करने की अपील की। जनप्रतिनिधियों ने लोकल बस सेवा शुरू कराने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की सराहना की। वहीं, सीईओ नरेंद्र भूषण ने बहुत कम समय में स्थानीय बस सेवा शुरू कराने के लिए प्राधिकरण और रोजवेज अधिकारियों को सराहा है। उन्होंने कहा है कि अगर जरूरत पड़ी तो ग्रेटर नोएडा के और भी रूटों पर बसें चलाई जाएंगी। बता दें कि रोडवेज की ये बसें डिपो में खड़ी हुईं थीं। इनके चलने से रोडवेज को भी राजस्व मिलेगा। कार्यक्रम के दौरान ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के महाप्रबंधक परियोजना एके अरोड़ा, डीजीएम केआर वर्मा व सलिल यादव, वरिष्ठ प्रबंधक कपिलदेव सिंह, मनोज धारीवाल, राजीव कुमार, प्रबंधक वैभव नागर व जितेंद्र यादव के अलावा रोडवेज के अधिकारीगण मौजूद रहे। इस अवसर पर एमएलसी श्रीचंद शर्मा ने ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के इस कदम की सराहना की।जेवर विधायक धीरेंद्र सिंह ने कहा कि बीते पांच वर्षों में प्रदेश भर में कनेक्टीविटी और सार्वजनिक परिवहन की सुविधा देने में तेजी से काम हुए हैं।

इन पांच रूट पर दौड़ेगी रोडवेज बसें

पहला रूट-

ननवा का रायपुर से कासना बस डिपो तक वाया सिरसा, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण का दफ्तर, तिलपता चौक, सूरजपुर, एलजी चौक और परी चौक। इस रूट की बस 37 गांव, 19 आवासीय सेक्टर, आठ औद्योगिक सेक्टर और दो इंस्टीट्शनल सेक्टर होते हुए गुजरेगी। इस रूट पर 11 प्रमुख स्थल कनारसी चौराहा, कासना बस डिपो, तिलपता रोटरी, कलेक्ट्रेट ऑफिस, जगत फार्म, घंघौला चौकी, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण दफ्तर, सूरजपुर एंट्री प्वाइंट, एलजी चौक, परी चौक और पी थ्री गोलचक्कर पड़ेंगे।

दूसरा रूट-

ननवा का राजपुर से किसान चौक वाया सिरसा, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण का दफ्तर, तिलपता चौक, किसान चौक, सूरजपुर, एलजी चौक और परी चौक। इस रूट की बसें 4 गांवों, 18 आवासीय सेक्टर, आठ इंडस्ट्रियल सेक्टर और पांच इंस्टीट्यूशनल सेक्टरों को होते हुए गुजरेगी। इस रूट पर कनारसी चौराहा, कासना बस डिपो, तिलपता रोटरी, कलेक्ट्रेट ऑफिस, जगत फार्म, घंघोला चौकी, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण दफ्तर, सूरजपुर एंट्री प्वाइंट, एलजी चौक, परी चौक, रिजर्व पुलिस लाइन, किसान चौक, बिसरख, एक मूर्ति और पी थ्री गोलचक्कर प्रमुख स्थल पड़ेंगे।

तीसरा रूट –

कासना बस डिपो से एलजी चौक पी थ्री रोटरी व नॉलेज पार्क टू। इस रूट पर सात गांव, 22 आवासीय सेक्टर, एक औद्योगिक सेक्टर, चार संस्थागत सेक्टर पड़ेंगे। इस रूट पर पी थ्री गोलचक्कर, शारदा विवि, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण का पुराना दफ्तर, यमुना प्राधिकरण, एलजी चौक, रामपुर जागीर, गलगोटिया विवि, जगत फार्म और डेल्टा वन मेट्रो स्टेशन प्रमुख स्थल पड़ेंगे।

चौथा रूट

घरबरा से कासना बस डिपो वाया गौतमबुद्ध विवि, कासना और एलजी चौक। इस रूट पर नौ गांव, 31 आवासीय सेक्टर, एक औद्योगिक सेक्टर, पांच संस्थागत सेक्टर पड़ेंगे। इस रूट पर जीबीयू, जिम्स हॉस्पिटल, कासना विलेज मार्केट, कासना डिपो, पी थ्री रोटरी, यमुना प्राधिकरण, गलगोटिया विवि, शारदा विवि, एलजी चौक, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण दफ्तर और अल्फा वन कॉमर्शियल बेल्ट प्रमु्ख स्थल पड़ेंगे।

पांचवां रूट 

डीएससी रोड पर नोएडा एंट्री प्वाइंट से कासना बस डिपो तक वाया एलजी चौक, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण दफ्तर और डीएमआईसी और आईआईटीजीएनएल की इंटीग्रेटेड टाउनशिप। इस रूट की बसें 12 गांवों, 15 आवासीय सेक्टरों, पांच औद्योगिक सेक्टरों, तीन इंस्टीट्यूशनल सेक्टर से होकर गुजरेगी। ये बसें 12 प्रमुख स्थलों जैसे कुलेसरा, कच्ची सड़क, यामहा, सूरजपुर टी प्वाइंट, कलेक्ट्रेट, एलजी चौक, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण का पुराना व नया दफ्तर, मेट्रो डिपो स्टेशन, हायर कंपनी, डीएमआईसीआईआईटीजीएनएल व कासना डिपो पड़ेंगे।

Spread the love
Latest News