केपीआईटी स्पार्कल डे  के 6वें संस्करण की मेजबानी एनआईईटी ने किया

 

-तकनीकी शिक्षा से जुड़े विद्यार्थियों को इन्नोवेशन के लिए मिलेगा अवसर

-सर्वोत्तम इन्नोवेशन को मिलेगा दस लाख तक का पुरस्कार

-इस वर्ष प्रतियोगिता का विषय है मोबिलिटी एण्ड एनर्जी फॉर द फ्यूचर

ग्रेटर नोएडा,। नोएडा इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एण्ड टेक्नोलॉजी ने “केपीआईटी स्पार्कल डे” नाम से कार्यक्रम आयोजित किया गया। आयोजन का उद्देश्य छात्रों को इमेजिन, आइडेंटिफाई और विचारों को स्वच्छ, सुरक्षित, हरित और टिकाऊ तकनीकों में सक्षम बनाना था। कार्यक्रम में तुषार जुवेकर-सीएसआर हेड, विशाल पिल्लई-इनोवेशन एसआईजी,  केदार सप्रे-वरिष्ठ विपणन विशेषज्ञ, विशाखा पारुलेकर-संस्थापक और सीईओ-कालिकृष्णा एल एण्ड डी सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड, आनंद सारदा, मार्केटिंग एक्ज़ीक्यूटिव- केपीआईटी टेक्नोलॉजीज शामिल हुए। एनआईईटी के कार्यकारी उपाध्यक्ष रमन बत्रा, डॉ. विनोद कापसे-निदेशक,  एनआईईटी टेक्नोलॉजी बिजनेस इनक्यूबेटर हेड, विभागाध्यक्षों के साथ, डीन तथा विद्यार्थियों ने एनआईईटी से इस कार्यक्रम में भाग लिया। केपीआईटी स्पार्कल, केपीआईटी टेक्नॉलॉजीज  द्वारा प्रतिवर्ष आयोजित की जाने वाली एक अभिनव प्रतियोगिता है जिसका उद्देश्य भारत के कॉलेजों में छात्रों के बीच नवाचार और महत्वपूर्ण सोच की संस्कृति को बढ़ावा देना है। यह एक ऐसा मंच है जो भविष्य के नवाचारों को आकार देने के लिए उद्योग और शिक्षा को एक साथ लाता है। सम्पूर्ण भारत के कॉलेजों और विश्वविद्यालयों के विज्ञान, इंजीनियरिंग, डिजाइन और प्रबंधन धाराओं से स्नातक, स्नातकोत्तर और पीएचडी पाठ्यक्रमों के छात्र केपीआईटी स्पार्कल पर एक मंच पाते हैं। इस वर्ष की प्रतियोगिता का विषय “मोबिलिटी एण्ड एनर्जी फॉर द फ्यूचर” है और एनआईईटी, केपीआईटी का गौरवशाली शिक्षा भागीदार है और इसने केपीआईटी स्पार्कल डे के 6वें संस्करण की मेजबानी की है। रमन बत्रा-कार्यकारी उपाध्यक्ष-एनआईईटी ने इस आयोजन की सराहना करते हुए छात्रों को प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में उत्कृष्टता के लिए अपने व्यावहारिक दृष्टिकोण को आगे बढ़ाने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि एनआईईटी का उद्देश्य प्रौद्योगिकी, कार्यक्रमों और सेवाओं के माध्यम से छात्रों के सीखने के अनुभव को बदलकर अभिनव, समग्र, 21वीं सदी के एंड्रोगोगी आधारित ज्ञान देना है। केपीआईटी टेक्नोलॉजीज के साथ टाई-अप हमारे छात्रों को आगामी जॉब मार्केट के लिए तैयार करने की दिशा में एक मजबूत कदम है।

 

Spread the love
RELATED ARTICLES

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *