एनआईईटी कोविड-19 से बचाव के लिए विद्यार्थियों को हॉस्टल मेस में उपलब्ध करा रहा इम्युनिटी बूस्टिंग डाइट

एनआईईटी कोविड-19 से बचाव के लिए विद्यार्थियों को हॉस्टल मेस में उपलब्ध करा रहा इम्युनिटी बूस्टिंग डाइट

ग्रेटर नोएडा,7 जनवरी। कोविड-19 महामारी के मद्देनजर, पूरी दुनिया त्रस्त हुई है और बीमारी के प्रसार को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन ने जीवन को एक ठहराव में ला दिया है। लेकिन धीरे-धीरे स्थिति सामान्य होने के साथ, नोएडा इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी (एनआईईटी), ग्रेटर नोएडा ने भी छात्रों के लिए अपने दरवाजे खोल दिए हैं। संस्थान ने सरकार के दिशानिर्देशों और सभी निवारक उपायों को अपनाते हुए छात्रों के लिए संस्थान में भी भौतिक रूप से कक्षाएं शुरू कर दी हैं। एनआईईटी का प्रबंधन छात्रों की सुरक्षा को अपनी सर्वोच्च प्राथमिकता मानता है और इस तथ्य के प्रति सचेत है कि शरीर की प्राकृतिक रक्षा प्रणाली यानी इम्मुनिटी को बढ़ाया जाय जो अपेक्षित स्वास्थ्य को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। इसके लिए हॉस्टल मेस में भोजन करने वाले छात्रों को स्वास्थ्य और प्रतिरक्षा-वर्धक (इम्युनिटी बूस्टर) आहार उपलब्ध कराया जाता है। छात्रों को नियमित रूप से तुलसी के पत्तों, दालचीनी, लौंग, अदरक, सौंफ़ और इलायची जैसी प्राकृतिक प्रतिरक्षा बढ़ाने वाली सामग्री से बनी इम्युनिटी चाय उपलब्ध कराई जाती है। सुबह और शाम के नाश्ते में छात्रों की आंतरिक-शक्ति को बढ़ावा देने के लिए इलाइची और अदरक के साथ हल्दी दूध मिलता है। दैनिक भोजन में बहुत सारी ताजी और हरी सब्जियों का उपयोग किया जा रहा है। ककड़ी और गाजर के साथ हरे सलाद को दिन के सभी मुख्य भोजन के साथ परोसा जाता है। छात्रों को इम्युनिटी बढ़ाने के लिए नियमित रूप से मौसमी फल खाने के लिए भी प्रोत्साहित किया जाता है। आंतरिक शक्ति और इम्युनिटी निश्चित रूप से छात्रों को कोरोनावायरस से ही नहीं बल्कि अन्य बीमारियों से भी सुरक्षित एवं स्वस्थ रहने में मदद करेगी।

Spread the love
Latest News