कोरोना महामारी में अपने खानपान का रखें विशेष ख्याल-श्वेता सिंह, डाईटीशियन

कोरोना महामारी में अपने खानपान का रखें विशेष ख्याल-श्वेता सिंह, डाईटीशियन

-खान-पान पर विशेष ध्यान देने के साथ, जरूरी टिप्स का करें पालन
ग्रेटर नोएडा। मास्क, सोशल डिस्टेन्सिंह और सैनिटाइजेशन के साथ-साथ खान-पान को भी ध्यान में रखना बहुत जरुरी है ताकि शरीर की रोग प्रतिरोधक छमता बढ़ सके। ज्यादा जरुरी है अगर वास्तविक रुप में खाएंगे तो आप की इम्यूनिटी अच्छी होगी, जिससे आपको रोगों से लड़ने की क्षमता मिलेगी। श्वेता सिंह, डाईटिशियन, सेन्टर फार डाइबिटीज केयर ग्रेटर नोएडा ने बताया कि अगर आप अपने रोज के दिनचर्या में सारे जरुरी विटामिन्स, प्रोटीन, मिनरल्स, जिन्क लेते हैं तो आप के शरीर को रोग से लड़ने की क्षमता मजबूत होती है। अपने खाने मे मौसम की सब्जियां, फल जोड़ना चाहिए। कोरोना से लड़ने के लिए हमें अपने डाइट में विटामिन-डी,सी, जिन्क को अधिक मात्रा में जोड़ना चाहिए। विटामिन-सी की जरुरत इसलिए होती है, क्योंकि यह शरीर के लिए सुरक्षा कवच तैयार करती है, यह हड्डियों, त्वचा और रक्त नलिकाओं के लिए खास है। हर दिन व्यक्ति को 65 से 90 एमजी विटामिन-सी जरुर लेनी चाहिए, आंवला इसका बहुत अच्छा सोर्स है। रोजाना 1 आंवला सभी उम्र के लोग ले सकते हैं। अमरुद, नीबू, पपीता, कीवी और हरी सब्जियां भी अच्छे सोर्स है। जिन्क भी हमारी इम्यूनिटी बढ़ाता है, इसलिए इस वक्त हमें अपने खाने में जिन्क से भरपूर खाना जैसे ड्राइफूड, मोटा अनाज, ओट्स, दलिया, कद्दू के बीज, सूरजमुखी के बीज लेना लाभदायक होगा। विटामिन-डी भी उतना ही महत्वपूर्ण विटामिन है, जितना की विटामिन सी और जिन्क। हमें रोजाना 200 आईयू विटामिन–डी जरुर लेना चाहिए। अगर कोई करोना के मरीज है तो उसे बालकनी या खिड़की वाले कमरे में रखना चाहिए, जिससे उसे भरपूर मात्रा में धूप मिलती रहे। विटामिन-डी सब्जियों, फलों में ब्रोकली, बादाम, दूध, अंडा, मशरुम में होता है। कोरोना से लड़ रहे लोगों को अपने खाने का विशेष तौर पर ध्यान रखना चाहिए, क्योंकि जो लोग कोरोना से प्रभावित हैं, उन्हें न सिर्फ कमजोरी पैदा हो रही है, बल्कि उनको मानसिक रुप से थका दे रहा है।
————–
-व्यवस्थित भोजन (डाइट प्लान)
-सुबह 6-7 जे 1 गिलास नीबू का पानी ले साथ में थोड़े से बादाम और अखरोट भी या फिर तुलसी की हल्की चाय भी ले सकते हैं।
-आधे घंटे के बाद आधा घंटे हल्की-फुलकी कसरत करें।
-सुबह का नास्ता-एक कटोरी दलिया या बेसन का चिल्ला या पनीर का सैंडविच या अंडे(उबले),1 आटा ब्रेड साथ में एक गिलास मलाई निकला हुआ दूध।
-दोपहर में- 1 फल जैसे संतरा, कीवी, आंवला या 1 गिलास नीबू पानी या काढ़ा।
-दोपहर के खाने में- 2 मिक्स आटे की रोटी, हरी सब्जी, दाल व सलाद या खिचड़ी या चावल (उबले), दाल हरी सब्जी व सलाद।(दोपहर खाने से पहले 1 बार स्टीम जरुर लें।
-सायं 4-5 बजे काढ़ा, एक कटोरी मखाना या स्प्राउट एक कटोरी।
-रात के भोजन में टमाटर का सूप, खाना-7-8 बजे के बीच, जिसमें 1-2 रोटी, हरी सब्जी, सलाद व दाल। 8-30 पर एक बार स्टीम लें। सोने से पहले हल्दी दूध जरुर लें।
-पूरे दिन अजवाइन-हल्दी वाला पानी थोड़ी-थोड़ी देर पर लें। 2-3 बार सेंधा नमक डालकर गरारा करें, अपना बुखार, पल्स व आक्सीजन लेवल देखते रहें। नमक, चीनी व तले हुए खाने से परहेज करें।

Spread the love
RELATED ARTICLES
Latest News