गुरुकुल में पहुंचे नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद चौधरी तेजवीर सिंह, गुरुकुल में सिखाया जाता है जीवन जीने की कला  

Newly elected Rajya Sabha MP Chaudhary Tejveer Singh reached Gurukul, the art of living is taught in Gurukul.

ग्रेटर नोएडा। महर्षि पाणिनि वेद-वेदांग विद्यापीठ गुरुकुल, सेक्टर- ईटा-1, प्रांगण में आयोजित प्रधानमंत्री मोदी ने नारी वंदन कार्यक्रम सुना तत्पश्चात समस्त मातृशक्ति के साथ यज्ञ, एवं भंडारे का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में शामिल राज्यसभा सांसद चौ. तेजवीर सिंह ने गुरुकुल सदस्यों के परिवारों को उद्बोधन करते हुए कहा यह परंपरा हम सब की जिम्मेदारी है, हम सभी को मिलकर के संजोए रखना है। पूर्व में  गुरुकुल के माध्यम से एवं हमें यहां पढ़ने वाले बच्चों से धर्म संबंधी उपदेश यथा योग्य ज्ञान, यहां आने वाले महापुरुषों का सहयोग हम सभी के जीवन को निश्चित रूप से ही सफल बनाने में सहायक होगा। मेरा सभी से आग्रह है कि इस गुरुकुल को हम सबको तन-मन-धन से सहयोग करते रहना चाहिए। सांसद ने गुरुकुल में यथाशक्ति सहयोग देने का आश्वासन दिया और सभी का आह्वान किया कि संकल्प लेकर कुछ ना कुछ अवश्य गुरुकुल के लिए दें। प्राचीन शिक्षा पद्धति के महत्व पर बताया कि हम सभी को गुरुकुलीय शिक्षा केवल पाठ्य पुस्तक व शिक्षा नहीं अपितु जीवन जीने की कला सिखाती है, समाज से उपेक्षित होने के कारण आज धर्म विशेष की भाषा संस्कृत रही है लेकिन ऐसा नहीं है हम सभी को इसके गौरव के लिए सार्थक प्रयास करना चाहिए।

गुरुकुल के संस्थापक आचार्य रविकान्त दीक्षित ने कार्यक्रम में पधारे सभी लोगों का धन्यवाद दिया और सभी से आह्वान किया कि जो पौधा हमने लगाया है उसको हम सब मिलकर सीचें तो निश्चित रूप से हम सभी के भागीदारी से ही यह गुरुकुल कुछ समय बाद अपने पूर्ण स्वरूप में होगा इसके लिए हम सभी को एक साथ मिलकर कार्य करना होगा। इस अवसर पर गुरुकुल संचालन समिति के अध्यक्ष वेदप्रकाश शर्मा  ने विचार प्रकट किए। अंत में गुरुकुल के बटुकों ने कार्यक्रम प्रस्तुत किए। इस अवसर पर गुरुकुल के बटुकों के साथ- साथ शहर के गणमान्य लोग  अखिलेश दुबे,उमेश, रविशंकर, ललित, रानी शर्मा, रेखा अग्रवाल, विनीत पाण्डेय, सुनील कुमार, जी.पी. गोस्वामी आदि महानुभाव उपस्थित रहे।

 

Spread the love
RELATED ARTICLES