जीबीयू ने विश्व पर्यावरण दिवस पर राष्ट्रीय वेबिनार का किया आयोजन, वक्ताओं ने पर्यावरण पर रखे अपने विचार

GBU organized a national webinar on World Environment Day, speakers expressed their views on the environment

ग्रेटर नोएडा,5 जून। गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय के एनवायरनमेंटल साइंस विभाग (स्कूल ऑफ़ वोकेशनल स्टडीज एंड एप्लाइड साइंसेज), स्कूल ऑफ़ लॉ जस्टिस एंड गवर्नेंस, सेंटर फॉर एनवायरनमेंटल लॉ मैनेजमेंट एंड रिसर्च द्वारा बायोडाइवर्सिटी कन्सरवेशन फॉर इकोलॉजिकल विषय पर विश्व पर्यावरण दिवस के दिन राष्ट्रीय वेबिनार का सफल आयोजन हुआ।
कार्यक्रम का शुभारम्भ सरस्वती वंदना के बाद गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ़ वोकेशनल स्टडीज एंड एप्लाइड साइंसेज के अधिष्ठाता प्रोफेसर निरंजन प्रकाश मेल्कानिया ने स्वागत किया और पर्यावरण विज्ञान, जैव विविधता और पारिस्थितिक बहाली के संबंध और महत्व पर प्रकाश डाला। तत्पश्चात वक्ता के रूप में उपस्थित प्रोफेसर एस.के.गखर, कुलपति इंदिरा गाँधी यूनिवर्सिटी, हरियाणा ने विश्व पर्यावरण दिवस के विषय में महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की तथा साथ ही उन्होंने विश्व पर्यावरण दिवस के उद्देश्य, विश्व पर्यावरण दिवस के 2021 के थीम –रीइमेजिन,रीक्रिएट तथा रीस्टोर, क्षतिग्रस्त पारिस्थितिकी तंत्र को पुनर्जीवित करने के लिए तत्काल कार्रवाई की आवश्यकता, महामारी और पर्यावरण तथा इकोसिस्टम के मूल्य पर विस्तार से अपनी बात रखी I गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.भगवती प्रकाश शर्मा ने अपने अध्यक्षीय भाषण में कहा कि ‘’हर साल 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस लोगों को प्राकृतिक संसाधनों के मूल्य के बारे में सूचित करने के लिए मनाया जाता है I यह दिन दुनिया भर में लोगों को जागरूक करने के लिए मनाया जाता है कि प्रकृति को हल्के में नहीं लिया जाना चाहिए और इसके मूल्य को संरक्षित किया जाना चाहिए I यह दिन दुनिया भर में पर्यावरण द्वारा लोगों को दी गई हर चीज का सम्मान करने और पहचानने के साथ-साथ इसकी रक्षा करने का वादा करने के लिए मनाया जाता है I अवकाश प्राप्त न्यायधीश आर.बी. शर्मा ने पर्यावरण दिवस न्यायपालिका की भूमिका पर प्रकाश डाला। अंत में स्कूल ऑफ़ लॉ जस्टिस एंड गवर्नेंस के अधिष्ठाता तथा सेंटर फॉर एनवायरनमेंट लॉ मैनेजमेंट एंड रिसर्च के समन्वयक डॉ .के.के द्विवेदी द्वारा धन्यवाद ज्ञापित किया गया जिसमें उन्होने सभी आदरणीय वक्ताओं और इस कार्यक्रम को संपन्न कराने के लिए जुड़े सभी लोगों के प्रति आभार व्यक्त किया।
कार्यक्रम का संचालन स्कूल ऑफ़ लॉ जस्टिस एंड गवर्नेंस के छात्र यथार्थ चौहान तथा मिलिंद सारस्वत द्वारा किया गया। कार्यक्रम को तकनीकी सहायता स्कूल ऑफ़ लॉ जस्टिस एंड गवर्नेंस के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ.संतोष कुमार तिवारी तथा स्कूल की छात्राओं अभिलाषा, माहीन और छात्र यथार्थ चौहान और मिलिंद सारस्वत द्वारा प्रदान की गयी । इस अवसर पर 400 से अधिक प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया I

Spread the love
RELATED ARTICLES
Latest News